अभी से शुरू करें NPS में निवेश, रिटायरमेंट पर पाएं 1 करोड़ रुपये और भारी-भरकम पेंशन


हाइलाइट्स

एनपीएस में निवेश पर आपको औसतन 10 फीसदी का रिटर्न मिलता है.
हाल के समय में इसके रिटर्न में कुछ गिरावट देखने को मिली है.
जानकार मानते हैं कि इस गिरावट से घबराने की कोई जरूरत नहीं है.

नई दिल्ली. नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) में निवेश के कई फायदे हैं. सबसे बड़ा फायदा तो यह है कि इसमें रिटर्न कई निवेश योजनाओं से बेहतर मिलता है. इसलिए आप अगर जल्दी इस योजना में निवेश शुरू करते हैं तो रिटायरमेंट तक आपके पास जबरदस्त फंड जमा हो सकता है और आपका आगे का जीवन पैसों की चिंता के बगैर गुजर सकता है. यह एक पेंशन स्कीम है इसलिए आपको जमा राशि एक हिस्सा एकमुश्त मिलता है जबिक कुछ हिस्से से एन्युटी खरीदनी होती है. एन्युटी को आप पेंशन की तरह देख सकते हैं.

नेशनल पेमेंट सिस्टम में आपको मैच्योरिटी के बाद 2 फायदे मिलते हैं. आप तैयार हुए फंड का 60 फीसदी हिस्सा एक साथ घर ले जाते हैं. दूसरे हिस्से यानी कि 40 फीसदी रकम से आपको एन्युटी खरीदनी होती है. ये आपको हर महीने, 3 महीने, 6 महीने या वार्षिक आधार पर मिलती रहती है. इससे रिटायरमेंट के बाद आपकी आर्थिक स्थिति दुरुस्त बनी रहती है. एनपीएस एक मार्केट लिंक्ड स्कीम है इसलिए इसमें बाजार से संबंधित जोखिम भी बने रहते हैं. निवेश करने से पहले इस बात का ध्यान जरूर रखें.

ये भी पढ़ें- इस रूल से तुरंत पता चलेगा कितने दिन में आपके पैसे होंगे 2 लाख से 4 लाख या 8 लाख

1 करोड़ का फंड करें तैयार
अगर आप 28 साल के हैं और हर महीने 10 रुपये एनपीएस में लगाते हैं व ये काम 60 वर्ष की आयु तक करते हैं तो आपके द्वारा जमा कुल राशि 38 लाख 40 हजार रुपये होगी. वैसे तो इस पर रिटर्न काफी अच्छा होता है लेकिन कभी-कभी होने वाले नेगेटिव रिटर्न को इसमें जोड़कर औसत रिटर्न 10 फीसदी मान लेते हैं. एनपीएस में जमा कुल राशि हो गई 2.80 करोड़ रुपये. इसमें आपको 60 फीसदी राशि यानी 1.6 करोड़ रुपये एकमुश्त मिल जाएंगे जबकि हर महीने 75 हजार रुपये पेंशन भी मिलेगी.

हाल के दिनों में नेगेटिव रिटर्न
केफिनटेक के एमडी व सीईओ श्रीकांत नडेला लिखते हैं कि पिछले कुछ सालों में जिस तरह म्यूचुअल फंड्स नेगेटिव रिटर्न दे रहे हैं लगभग वैसा ही हाल एनपीएस का भी रहा है. हालांकि, वह कहते हैं कि इससे निवेशकों को डरने की कोई जरूरत नहीं है. उनका मानना है कि लोगों को एनपीएस को एक एसआईपी की तरह ही देखना चाहिए. बकौल नडेला, हाल के समय में जो एमएफ के रिटर्न में गिरावट दिखी उसका मुख्य कारण बाजार का लॉर्ज कैप शेयरों की तरफ झुकना है. उन्होंने कहा कि जब भी बाजार में ऐसा होता है इक्विटी से जुड़ी स्कीम नीचे जाती ही हैं. लोगों को इससे घबराने की बजाय एनपीएस में निवेश को बनाए रखना चाहिए क्योंकि भविष्य में इस इंतजार का फल बहुत मीठा होगा.

Tags: Business news, Business news in hindi, Earn money, NPS, Pension scheme



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *