Friday, March 1, 2024
Home Business आम आदमी को मिला New Year Gift, छोटी बचत स्कीमों पर बढ़ी...

आम आदमी को मिला New Year Gift, छोटी बचत स्कीमों पर बढ़ी ब्याज दरें, एक स्कीम में 8% इंटरेस्ट


हाइलाइट्स

PPF और बालिका बचत योजना ‘सुकन्या समृद्धि’ की ब्याज दरों में बदलाव नहीं किया गया है.
राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) पर एक जनवरी से 7 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा. 
वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में मौजूदा 7.6 प्रतिशत के मुकाबले 8 प्रतिशत ब्याज मिलेगा.

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने 8 बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी करके आम आदमी को बड़ी सौगात दी है. शुक्रवार को डाकघर सावधि जमा (Post Office Term Deposit), एनएससी (NSC) और वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (Senior Citizen Saving Scheme) समेत लघु बचत जमा योजनाओं (Small Saving Schemes) पर ब्याज दरों में 1.1 प्रतिशत तक बढ़ोतरी की. यह बढ़ोतरी 1 जनवरी से लागू होगी. सरकार की यह वृद्धि हाल में ब्याज दरों में हुई बढ़ोतरी के अनुरूप है. हालांकि, सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF) और बालिका बचत योजना ‘सुकन्या समृद्धि’ (Sukanya Samriddhi Yojana) की ब्याज दरों में बदलाव नहीं किया गया है.

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) पर एक जनवरी से 7 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा. अभी यह 6.8 फीसदी है. इसी तरह, वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में मौजूदा 7.6 प्रतिशत के मुकाबले 8 प्रतिशत ब्याज मिलेगा. एक से पांच साल की अवधि की डाकघर सावधि जमा योजना पर ब्याज दरें 1.1 प्रतिशत तक बढ़ जाएंगी. मासिक आय योजना में भी 6.7 प्रतिशत की जगह अब 7.1 प्रतिशत ब्याज मिलेगा.

ये भी पढ़ें- सिर्फ 1% ब्‍याज पर लोन! जानिए किस खाते में मिलती है कर्ज पर सबसे कम इंटरेस्ट की ये सुविधा

पोस्ट ऑफिस बचत खातों पर ब्याज दर में बदलाव नहीं
पोस्ट ऑफिस बचत खातों पर मिलने वाली ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं हुआ है इसलिए खाताधारकों को 4% की सालाना दर से ही ब्याज मिलेगा. 1 साल से लेकर 3 साल तक की टाइम डिपॉजिट वाली स्कीम्स के ब्याज दरों में 1.10% बढ़ोतरी हुई है.

PM Narendra modi schemes for poor

दरअसल भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा रेपो रेट में बढ़ोतरी के बाद से सरकार समर्थित सभी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में बढ़ोतरी की उम्मीद की जा रही थी. हालांकि, पीपीएफ और सुकन्या समृद्धि योजनाओं के खाताधारक को निराशा हाथ लगी है. फिलहाल पीपीएफ पर ब्याज की मौजूदा दर 7.1 फीसदी है. अब कई बैंक भी पीपीएफ की तुलना में सावधि जमा योजनाओं पर ज्यादा इंटरेस्ट ऑफर कर रहे हैं.

सितंबर 2018 में पीपीएफ पर ब्याज दर 7.4% थी. जून 2019 में यह बढ़कर 8% हो गई लेकिन तब से गिरनी शुरू हो गई और अब ब्याज दर 7.1% है. बता दें कि केंद्र सरकार तिमाही आधार पर सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) की ब्याज दर में संशोधन करती है और 8 छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में बदलाव इसी के तहत किया गया है.

Tags: Money Making Tips, Post office MIS, PPF, Save Money, Saving, Small Saving Schemes, Sukanya samriddhi scheme



Source link

RELATED ARTICLES

AI is fueling a gold rush in new data centers, the hottest buildings in real estate

The latest hot spots in commercial real estate aren’t in Manhattan or Miami.Instead of snazzy hotels or glistening office towers, the new property...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

AI is fueling a gold rush in new data centers, the hottest buildings in real estate

The latest hot spots in commercial real estate aren’t in Manhattan or Miami.Instead of snazzy hotels or glistening office towers, the new property...

NYCB ‘is on its own’ to work out accounting mess, analyst says

New York Community Bancorp Inc. “is on its to own” to figure out its accounting and other issues as it faces fresh losses...