वरिष्‍ठ नागरिकों पर सरकार मेहरबान! FD सहित कई बचत योजनाओं पर बढ़ाया ब्‍याज, अब कितना मिलेगा रिटर्न?


हाइलाइट्स

1 साल की पोस्ट ऑफिस फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर अब 6.6 फीसदी ब्‍याज मिलेगा.
POMIS की ब्याज दर 6.7 फीसदी से बढ़कर 7.1 फीसदी हो गई है.
NSC की ब्याज दर 6.8 फीसदी से बढ़ाकर 7 फीसदी कर दी गई है.

नई दिल्‍ली. स्मॉल सेविंग स्कीम्स (Small Saving Scheme) में निवेश करने वाले वरिष्‍ठ नागरिकों के लिए अच्‍छी खबर है. सरकार ने वित्त वर्ष 2022-23 की जनवरी-मार्च तिमाही के लिए कुछ छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है. वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS), डाकघर मासिक आय योजना (POMIS), राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) और डाकघर फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट की ब्‍याज दरों में इजाफा किया है.

छोटी बचत योजनाओं में बड़ी संख्‍या में लोग निवेश करते हैं. खासकर, वरिष्‍ठ नागरिक और पेंशनर्स की तो ये पसंदीदा निवेश योजनाएं हैं. अच्‍छा ब्‍याज, टैक्‍स छूट और पैसा डूबने का खतरा न होने के कारण ये योजनाएं बहुत लोकप्रिय हैं. अब 60 साल या इससे ज्‍यादा उम्र के लोगों को वरिष्ठ नागरिक बचत योजना और पोस्‍ट ऑफिस एफडी कराने पर ज्‍यादा ब्‍याज मिलेगा.

ये भी पढ़ें-   Joint Bank FD: अगर एक खाताधारक की मृत्यु हो जाए तो, क्या पैसा फंस जाएगा? बड़ा क्लियर है नियम

वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS)
जनवरी-मार्च 2023 तिमाही के लिए वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS) की ब्याज दर को बढ़ाकर 8 फीसदी कर दिया गया है. पहले ब्‍याज दर 7.6 फीसदी थी. वरिष्ठ नागरिक मिनिमम 1,000 रुपये तक निवेश कर सकते हैं. वहीं अधिकतम इस स्कीम में 15 लाख रुपये तक निवेश कर सकते हैं. इस स्कीम में निवेश करने पर वरिष्ठ नागरिक को इनकम टैक्स की धारा 80C के तहत छूट मिलती है.

पोस्ट ऑफिस FD
1 साल की पोस्ट ऑफिस फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर अब 5.5 फीसदी की बजाय 6.6 फीसदी ब्‍याज मिलेगा. इसी तरह, 2 साल की एफडी पर ब्‍याज को 5.7 फीसदी से बढ़ाकर 6.8 फीसदी कर दिया गया है. 3 साल की पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट के लिए वरिष्‍ठ नागरिकों को अब 6.9 फीसदी की दर से ब्‍याज दिया जाएगा. 5 साल में परिपक्‍व होने वाली पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट पर अब 7 फीसदी ब्‍याज मिलेगा. किसान विकास पत्र (KVP) की ब्याज दर भी 6.8 फीसदी से बढ़कर 7 फीसदी हो गई है.

ये भी पढ़ें-   Gratuity : कंपनी दिवालिया हो जाए तो मिलेगा ग्रेच्‍युटी का पैसा, छोड़िएगा मत! जानिए क्या कहता है कानून?

डाकघर मासिक आय योजना (POMIS)
पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (POMIS) की ब्याज दर 6.7 फीसदी से बढ़ाकर 7.1 फीसदी कर दिया गया है.

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC)
जनवरी-मार्च तिमाही के लिए राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) की ब्याज दर 6.8 फीसदी से बढ़ाकर 7 फीसदी कर दी गई है.

इनका नहीं बढ़ा ब्‍याज
सुकन्या समृद्धि योजना (SSY), सार्वजनिक भविष्य निधि (PPF) और डाकघर आवर्ती जमा (Post Office RD) जैसी अन्य छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरों में जनवरी-मार्च तिमाही के लिए कोई बदलाव नहीं किया गया है.

Tags: Business news in hindi, FD Rates, Interest Rates, Money Making Tips, Post Office, Small Saving Schemes



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *