शुगर स्‍टॉक्‍स में बढ़ी ‘मिठास’, 20 फीसदी तक आया उछाल, जानिए तेजी की वजह


हाइलाइट्स

धामपुर शुगर मिल्‍स के शेयर में सोमवार को 10.97 फीसदी तेजी रही.
केसीपी शुगर एंड इंडस्ट्रीज का शेयर करीब 14 फीसदी उछल गया.
मवाना शुगर्स कंपनी का शेयर भी सोमवार को करीब पांच फीसदी चढ़ा.

नई दिल्‍ली. चीनी बनाने वाली कंपनियों के शेयर दो सत्रों से उड़ रहे हैं. प्रमुख शुगर स्‍टॉक्‍स (Sugar stocks) में पिछले कारोबारी सत्र में भी तेजी दर्ज की गई थी और कारोबारी सप्‍ताह के पहले दिन भी इन स्‍टॉक्‍स में 20 फीसदी तक का उछाल देखा गया. डालमिया भारत शुगर एंड इंडस्ट्रीज, राजश्री शुगर एंड केमिकल्स, शक्ति शुगर्स, धामपुर स्पेशियलिटी शुगर और सिंभावली शुगर्स के शेयरों में सोमवार को ज्‍यादा तेजी रही.

मनीकंट्रोल की एक रिपोर्ट के अनुसार, सरकार के मार्केटिंग ईयर 2022-23 के लिए चीनी निर्यात का कोटा (sugar export quota) बढ़ाने की संभावना को देखते हुए शुगर स्‍टॉक्‍स पर निवेशक जमकर पैसा लगा रहे हैं. इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (India Ratings and Research) की एक रिपोर्ट के अनुसार 2018 में चीनी का न्यूनतम सीलिंग प्राइस तय करने, रॉ मैटेरियल की कीमत निश्चित होने और तैयार उत्पाद की कीमत बाजार से जुड़ जाने से शुगर इंडस्‍ट्री की मुख्‍य समस्‍या का समाधान हो गया है. एथेनॉल ब्‍लेंडिंग प्रोग्राम से भी शुगर इंडस्‍ट्री को फायदा हुआ है.

ये भी पढ़ें-   Multibagger Share: छोटे शेयर का बड़ा धमाल, 1 साल में दोगुना कर दी निवेशकों की दौलत, अब देगा ₹100 का डिविडेंड

कौन सा शेयर कितना चढ़ा
सोमवार को एनएसई पर डालमिया भारत शुगर एंड इंडस्ट्रीज (Dalmia Bharat Sugar and Industries) का शेयर 13.20 फीसदी चढ़कर 417.80 रुपये पर बंद हुआ. इसी तरह राजश्री शुगर एंड केमिकल्स (Rajshree Sugar & Chemicals) के शेयर में करीब 20 फीसदी का उछाल आया और यह स्‍टॉक शाम को 66.65 के स्‍तर पर बंद हुआ. शक्ति शुगर्स के शेयर में भी 14.63 की तेजी रही और यह शेयर 32.90 रुपये (Sakthi Sugars Share Price) पर बंद हुआ. धामपुर स्पेशियलिटी शुगर (Dhampure Speciality Sugars) का शेयर भी 19.97 फीसदी की तेजी के साथ 34.85 रुपये पर बंद हुआ है. सिंभावली शुगर्स (Simbhaoli Sugars) में सोमवार को 19.86 फीसदी की तेजी रही और यह शुगर स्‍टॉक 33.50 रुपये के स्‍तर पर बंद हुआ.

बढ़ सकता है निर्यात कोटा
पीटीआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सरकार जनवरी में घरेलू उत्पादन का आकलन करने के बाद मार्केटिंग ईयर 2022-23 के लिए चीनी के निर्यात कोटा (sugar export quota) को बढ़ाने पर विचार कर सकती है. समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने भी 15 दिसंबर को खाद्य सचिव संजीव चोपड़ा के हवाले से बताया था कि स्थानीय उत्पादन का अनुमान लगाने के बाद केंद्र सरकार जनवरी में अतिरिक्त चीनी निर्यात की अनुमति देने पर विचार कर सकती है. सरकार ने मार्केटिंग ईयर 2022-23 के दौरान 6 मिलियन टन चीनी निर्यात करने की अनुमति दी है.

Tags: BSE, Business news in hindi, NSE, Stock market, Stock tips



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *