Monday, February 26, 2024
Home Business सिर्फ 7 रुपये वाले इस बैंक स्टॉक ने किया कमाल, 6 महीने...

सिर्फ 7 रुपये वाले इस बैंक स्टॉक ने किया कमाल, 6 महीने में दिया जबरदस्त ‘बुल रन’, बस चढ़ता चला पीछे नहीं मुड़ा


हाइलाइट्स

बैंक का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में बढ़कर 223.10 करोड़ रुपये रहा.
मार्च 2023 तक बैंक को ग्रॉस एनपीए और लोन बुक की क्वालिटी में और सुधार की उम्मीद है.
जून 2022 के बाद शेयर में तेजी का रुझान देखने को मिला है.

मुंबई. अगर आप बैंकिंग शेयरों में निवेश का मन बना रहे हैं तो साउथ इंडियन बैंक (South Indian Bank Share) का शेयर एक अच्छा विकल्प हो सकता है. क्योंकि कम अवधि में इस स्टॉक ने मल्टीबैगर रिटर्न दिया है. 20 जून को इस शेयर ने 52 वीक का निम्न स्तर 7.25 छुआ था जबकि पिछले महीने 15 दिसंबर को 52 सप्ताह का उच्च स्तर 21.80 बनाया था. 2022 में सितंबर तिमाही में बेहतर प्रदर्शन के बाद तेजी बनी हुई है.

साउथ इंडियन बैंक का शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में बढ़कर 223.10 करोड़ रुपये रहा. कंपनी ने बृहस्पतिवार को बयान में कहा कि फंसे हुए कर्ज के एवज में प्रावधानों में कमी आने से बैंक का मुनाफा बढ़ा है. बैंक को पिछले वित्त वर्ष (2021-22) की जुलाई-सितंबर तिमाही में 187.06 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था.

ये भी पढ़ें- लंबी रेस का घोड़ा साबित होगा YES Bank का शेयर! फिर दिखाई मजबूती, एक्सपर्ट्स ने बताई निवेश की रणनीति

जून 2022 के बाद दिखी तेजी
जून 2022 में 7 रुपये के स्तर पर आने के बाद दिसंबर 2022 में शेयर का भाव 21 रुपये तक पहुंच गया यानि महज 6 महीने की अवधि में शेयर ने करीब 300 फीसदी, 3 गुना का रिटर्न दे दिया. 2 जनवरी 2023 को साउथ इंडियन बैंक का शेयर 19.25 रुपये के भाव पर बंद हुआ.

एनपीए और लोन बुक में बेहतरी की उम्मीद
वहीं, बैंक के ग्रॉस एनपीए और लोन बुक को लेकर साउथ इंडियन बैंक के सीएमडी और सीईओ मुरली रामकृष्णन ने कहा कि मार्च बैंक 2023 तक सकल गैर-निष्पादित आस्तियों (जीएनपीए) को ऋण पुस्तिका की गुणवत्ता पर ध्यान केंद्रित करके लगभग 5.8 प्रतिशत से घटाकर पांच प्रतिशत तक लाने की उम्मीद करता है.

बता दें कि बीती तिमाही के दौरान बैंक की संपत्ति की गुणवत्ता में सुधार हुआ. बैंक की 30 सितंबर, 2022 तक सकल गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) घटकर सकल कर्ज का 5.67 प्रतिशत रह गयी. सितंबर 2021 के अंत तक यह 6.65 प्रतिशत थी. इस दौरान बैंक का मूल्य के संदर्भ में, सकल एनपीए 3,879.60 करोड़ रुपये से घटकर 3,856.13 करोड़ रुपये रहा. वहीं इसकी शुद्ध एनपीए या फंसा कर्ज भी 3.85 प्रतिशत (2,178.49 करोड़ रुपये) से कम होकर 2.51 प्रतिशत (1,647.13 करोड़ रुपये) रह गया.

(Disclaimer- यहां शेयर के बारे में दी गई जानकारी उसके पूर्व प्रदर्शन के आधार बताई गई है. अगर आप इसमें निवेश करना चाहते हैं तो पहले सर्टिफाइड इन्वेस्टमेंट एडवाइजर से सलाह जरूर लें. आपको होने वाले किसी भी नुकसान के लिए News18 जिम्मेदार नहीं होगा.)



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Opinion: We’re spending more on leisure and travel. These 11 stocks will soak it up.

Leisure stocks are likely to outperform this year as emboldened consumers kick back and relax. Here’s more on three economic trends supporting this...