Saturday, March 2, 2024
Home Business 6 महीने में 85 फीसदी चढ़ा, अब 2023 में देगा 'दोगुना' रिटर्न!...

6 महीने में 85 फीसदी चढ़ा, अब 2023 में देगा ‘दोगुना’ रिटर्न! इस बैंकिंग शेयर में दांव लगाने का बेहतरीन मौका


हाइलाइट्स

बैंकिंग शेयर ने 2022 के आखिरी 6 महीनों में इस स्टॉक ने शानदार रिटर्न दिया है.
आगामी तीसरी तिमाही के नतीजों में बैंक को मार्जिन में तेज सुधार होने उम्मीद है.
₹70 के स्तर को पार करने के बाद शेयर के तेजी से ऊपर की ओर बढ़ने की संभावना है.

मुंबई. 2022 में कई बैंकिंग शेयरों ने इन्वेस्टर्स को तगड़ी कमाई कराई और अब निगाहें 2023 पर है. इसी कड़ी में निवेशक नये साल में मल्टीबैगर स्टॉक की तलाश कर रहे हैं. इसी कड़ी में आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयर (IDFC First Bank Share) दलाल स्ट्रीट के उन बैंकिंग शेयरों में से एक है जो 2023 में बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं. बढ़ती ब्याज दरों और कॉर्पोरेट लेंडिंग बिजनेस में अपेक्षित वृद्धि के कारण मार्केट एक्सपर्ट्स अब भी आईडीएफसी फर्स्ट बैंक शेयर की कीमत में तेजी की उम्मीद कर रहे हैं.

2022 के आखिरी 6 महीनों में इस स्टॉक ने शानदार रिटर्न दिया है. बाजार विशेषज्ञों का कहना है कि आईडीएफसी फर्स्ट बैंक क्रेडिट कार्ड बिजनेस और ऑनलाइन लोन देने पर ध्यान केंद्रित करने से प्राइवेट सेक्टर के बैंकों में भारतीय बाजार में उभरते अगली पीढ़ी के बैंक’ में से एक के रूप में स्थापित हो गया है.

ये भी पढ़ें- लंबी रेस का घोड़ा साबित होगा YES Bank का शेयर! फिर दिखाई मजबूती, एक्सपर्ट्स ने बताई निवेश की रणनीति

शेयर के लिए ये होंगे अहम लेवल
मिंट की खबर के अनुसार, शेयर बाजार के विशेषज्ञों ने कहा कि आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयरों ने ₹45 के स्तर पर ब्रेकआउट दिया है और यह वर्तमान में ₹45 से ₹60 के दायरे में कारोबार कर रहा है. एक बार जब यह ₹60 की बाधा को पार कर जाता है, तो यह ₹70 के स्तर तक जा सकता है. हालांकि, चार्ट पर
स्टॉक ने ‘हायर हाई हायर लो’ पैटर्न बनाया है जो ₹70 से ऊपर के स्तर को बनाए रखने के बाद अधिक तेज ऊपर की ओर बढ़ने का संकेत देता है.

बाजार विशेषज्ञों ने आगे कहा कि अगर आईडीएफसी बैंक के शेयर की कीमत ₹70 के स्तर से ऊपर बनी रहती है, तो यह बैंकिंग स्टॉक 2023 के आखिरी तक 3 अंकों के आंकड़े तक पहुंचने में कामयाब हो सकता है और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयर की कीमत ₹120 के स्तर तक पहुंच सकती है.

बिकवाली के दायरे से बाहर आए शेयर
आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयरों की तेजी पर नजरिया रखते हुए आईआईएफएल सिक्योरिटीज के अनुज गुप्ता ने कहा, “किसी भी अन्य भारतीय बैंक की तरह, तेज ब्याज दर व्यवस्था के कारण, आईडीएफसी बैंक को अपने खुदरा शेयरों में वृद्धि से बैंकिंग बिजनेस में लाभ होने की उम्मीद है. इसके अलावा, इसका कॉरपोरेट फंडिंग में भी एक्सपोजर है. आईडीएफसी फर्स्ट बैंक को दोनों सेक्टर में फायदा होने की उम्मीद है. आगामी तीसरी तिमाही के नतीजों में बैंक को मार्जिन में तेज सुधार होने उम्मीद है.”

2022 में प्रवेश करने के बाद, IDFC फर्स्ट बैंक के शेयर जुलाई 2022 तक बिकवाली के दायरे में रहे. हालाँकि, जुलाई के अंतिम सप्ताह से, बैंकिंग स्टॉक ने तेजी पकड़ी जो आज तक बनी हुई है. पिछले छह महीनों में, आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयर की कीमत लगभग ₹31.50 से बढ़कर ₹60 प्रति शेयर हो गई है, जिससे इसके शेयरधारकों को 85 प्रतिशत से अधिक का रिटर्न मिला है. हालांकि, स्टॉक अभी भी अंडरवैल्यूड है क्योंकि इसने साल-दर-साल (YTD) समय में महज 20 फीसदी रिटर्न दिया है.

(Disclaimer- यहां शेयर पर दी गई सलाह एक्सपर्ट्स के अपने विचार हैं. निवेश करने से पहले सर्टिफाइड इन्वेस्टमेंट एडवाइजर से सलाह अवश्य लें. आपको होने वाले नुकसान के लिए News18 Hindi जिम्मेदार नहीं होगा.)

Tags: Business news, IDFC first bank, Nifty50, Sensex, Stock market today



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular